Home Uncategorized सतना ,बहन ने प्रेमी के साथ मिलकर की भाई की हत्या

सतना ,बहन ने प्रेमी के साथ मिलकर की भाई की हत्या

14 second read
Comments Off on सतना ,बहन ने प्रेमी के साथ मिलकर की भाई की हत्या
0
229

सतना दलदल हत्याकांड का सनीसनीखेज खुलासा सामने आया है,

इसमें एक बहन ही अपने भाई की कातिल निकली। रिश्तों को तार तार करने वाली इस घटना में भाई को मौत के घाट सिर्फ इसलिए उतारा गया क्योंकि वह बहन की नाजायज हरकतों पर लगाम लगाता था। कहानी की शुरुआत कुछ साल पहले से होती है जब बहन सेमरिया स्थत कालेज में पढने जाती थी। यहां उसके नाजायज संबंधों की जानकारी भाई को लगी तो उसने बहन को फटकारा और सख्ती से रोक लगाई। लेकिन बहन की उन्मुक्तता में कमी नहीं आई तो भाई उसे खुद छोड़ने तक जाने लगा। इधर बहन को लगा कि भाई ही उसका विरोधी और बाधक है। इस बीच बहन के संबंध भाई के दोस्त से हो गए। शारीरिक संबंध भी बन गए। तभी दोस्त के पास से भाई को बहन की आपत्तिजनक फोटो मिली। इससे भाई ने न केवल अपने दोस्त से दूरी बनाई बल्कि बहन को भी जमकर फटकारा। इस घटना के बाद बहन और दोस्त की मुलाकात नहीं हो पा रही थी। लिहाजा बहन ने अपने प्रेमी जो भाई का दोस्त से उसके साथ मिल कर भाई की हत्या की साजिश रची। हत्या के दिन रात को बहन ने शौच जाने के नाम पर भाई को अपने साथ लिया। बहन के धोखे में भाई उसके पीछे पीछे चला गया। रास्ते में बहन ने भाई को चिन्हित स्थल पर खड़ा होने कहा और खुद आगे निकल गई। वहीं पर छिपे भाई के दोस्त ने उसके सिर में डंडे से प्रहार किया। जिससे भाई गिर गया और इसके बाद उस पर तार लपेट कर करंट लगा दिया। हाई बोल्ट करेंट के चलते भाई की मौत हो गई। इसी दौरान गले में लिपटी तार करेंट के प्रभाव से इतनी हरकत में आई कि भाई का भी गला कट गया। हालांकि यह घाव गहरा नहीं था। इसके बाद बहन और प्रेमी वहां से निकल गये।

करंट से काटा गला,,

पुलिस ने पड़ताल शुरू की तो पाया कि हत्या की वजह करंट है न कि गला कटना। इसके बाद एक सुसाइड नोट भी पाया। परीक्षण करने पर पाया गया कि यह मृत हो चुके भाई की रायटिंग नहीं है। खबरियों के अनुसार पुलिस ने दोस्त पर संदेह करते हुए उसकी रायटिंग भी ली जो मिल रही थी। उधर शंका के आधार पर बहन के सामान की तलाशी ली तो उसकी कापी से पन्ना फटा मिलने के सबूत मिल गये। सुसाइड नोट वाला पन्ना बहन की कापी से फाड़ा गया था। इस तरह से पुलिस ने पुख्ता साक्ष्य इक्कठा किये और नतीजे पर पहुंची की बहन और दोस्त ने मिलकर युवक को मार डाला।

प्रेमिका को ओर मोड़ना चाहते थे शक की सुई,

पकड़े गए आरोपी बहन और दोस्त ने बताया कि काफी सोचकर हत्या की साजिश रची थी। इसलिए इस घटना में किसी मोबाइल का इस्तेमाल नहीं किया। कोई सबूत न मिले इसलिए करंट से मारने की साजिश रची। और शक न हो इसलिए कहानी को मृतक की प्रेमिका की ओर मोड़ने का खेल किया।

Load More Related Articles
Comments are closed.

Check Also

रावण दहन के आयोजन में कानून व्यवस्था कायम रखने कार्यपालिक मजिस्ट्रेटों की ड्यूटी

Author Recent Posts sampat mishra Latest posts by sampat mishra (see all) रावण दहन के आयोज…