Home मध्यप्रदेश भोपाल सिद्धा पहाड़ मामले में सरकार की कार्यवाही पर्याप्त नहीं जन विरोध न होता तो सरकार भगवान राम के प्रतिज्ञा स्थल को नष्ट कर देती:अजय सिंह

सिद्धा पहाड़ मामले में सरकार की कार्यवाही पर्याप्त नहीं जन विरोध न होता तो सरकार भगवान राम के प्रतिज्ञा स्थल को नष्ट कर देती:अजय सिंह

16 second read
Comments Off on सिद्धा पहाड़ मामले में सरकार की कार्यवाही पर्याप्त नहीं जन विरोध न होता तो सरकार भगवान राम के प्रतिज्ञा स्थल को नष्ट कर देती:अजय सिंह
0
9

भोपाल।।मप्र विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने भगवान राम के प्रतिज्ञा स्थल सिद्धा पहाड़ की तीन खदानों की निरस्त हुई कार्यवाही को अपर्याप्त बताते हुए कहा है कि अगर सरकार की भगवान राम के प्रति वास्तव में आस्था है तो उसे उक्त क्षेत्र की सम्पूर्ण खदानों को बन्द कराकर अवैध उत्खनन रोकना चाहिए | इसके साथ ही सम्पूर्ण क्षेत्र को पर्यटन क्षेत्र के रूप में विकसित करना चाहिए।

अजय सिंह ने जारी बयान में दावा करते हुए कहा कि अगर यह मामला सुर्ख़ियों में नहीं आता और जनविरोध न होता तो प्रदेश सरकार भगवान राम के इस प्रतिज्ञा स्थल में लीज आवंटित कर उसे नष्ट कर देती | अजय सिंह ने कहा कि सरकार को उन नामों का खुलासा करना चाहिए कि उक्त पवित्र तीर्थ स्थल के साथ साथ रामपथ गमन क्षेत्र में किन्हें किन्हें लीज आवंटित की गयीं और किस आधार पर की गयीं| उन्होंने सवाल उठाते हुए कहा कि इतने पवित्र तीर्थ स्थल के ऐतिहासिक महत्व से सरकार आखिर अनजान कैसे बनी रही। सिंह ने अपने आरोप में कहा है कि भाजपा नेताओं के संरक्षण में सम्पूर्ण रामपथ गमन क्षेत्र में अवैध उत्खनन कर उसे नष्ट किया जा रहा है| उन्होंने कहा सरभंगा, कारीगोही, देउरा, बरहा, लेदरा, सेलहा जैसे गांव जो रामपथ गमन के हिस्सा हैं वहाँ प्रतिदिन बड़ी मात्रा में अवैध उत्खनन कर उसे नष्ट किया जा रहा है| उन्होंने प्रदेश के मुख्यमंत्री से कहा है कि भगवान राम की तपोभूमि को बचाने के लिए अगर सरकार गंभीर है तो अवैध उत्खनन के खिलाफ बड़ी कार्यवाही करनी चाहिए |
-0-

Load More Related Articles
Comments are closed.

Check Also

नरेंद्र सिंह तोमर के बेटे के खिलाफ पूर्व संघ प्रचारक हुए मुखर, ड्रग्स की लेन-देन का वीडियो हुआ था वायरल

Author Recent Posts admin Latest posts by admin (see all) राज्य सरकार की बड़ी तैयारी, जल्द…