Home मध्यप्रदेश Rewanchalroshni Satna: समय-सीमा में क्रियान्वयन नहीं करने पर कलेक्टर ने जताई नाराजगी, BEO को थमाया निलंबन का नोटिस

Rewanchalroshni Satna: समय-सीमा में क्रियान्वयन नहीं करने पर कलेक्टर ने जताई नाराजगी, BEO को थमाया निलंबन का नोटिस

19 second read
Comments Off on Rewanchalroshni Satna: समय-सीमा में क्रियान्वयन नहीं करने पर कलेक्टर ने जताई नाराजगी, BEO को थमाया निलंबन का नोटिस
0
39

सतना ।। सतना में गुरुवार को शिक्षा, जिला शिक्षा केंद्र और डाइट के कार्यक्रमों एवं गतिविधियों की समीक्षा बैठक में समय-सीमा में कार्यक्रमों का क्रियान्वयन नहीं करने, सीएम हेल्पलाइन में उदासीनता बरतने और अपने दायित्वों का ठीक ढंग से निर्वहन नहीं करने पर सभी बीईओ को निलंबन का नोटिस जारी करने के निर्देश कलेक्टर ने दिए। इस मौके पर सीईओ जिला पंचायत डॉ परीक्षित झाड़े, जिला शिक्षा अधिकारी नीरव दीक्षित, एडीपीसी रमसा गिरीश अग्निहोत्री, सहायक संचालक शिक्षा एनके सिंह, डाइट प्राचार्य सच्चिदानंद पांडेय सहित बीईओ, बीआरसी भी उपस्थित थे।


    कलेक्टर अनुराग वर्मा ने बीईओ वार सीएम हेल्पलाइन के प्रकरणों की समीक्षा की। उन्होंने संकुल प्राचार्य के प्रतिवेदन नहीं आने का कारण दर्शाते हुए 100 दिवस से अधिक सीएम हेल्पलाइन का प्रकरण लंबित रखने पर बीईओ को नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। छात्रवृत्ति के लिए प्रोफाइल अपडेशन और मैपिंग की समीक्षा में कक्षा 1 से 12 तक के छात्रों की मैपिंग 95.23 प्रतिशत पूर्ण होने पर भी प्रोफाइल अपडेशन का कार्य 24 प्रतिशत ही होने पर नाराजगी जाहिर की गई। जिला शिक्षा अधिकारी ने बताया कि प्रोफाइल मैपिंग का कार्य पोर्टल खुलने के साथ ही पूर्ण कर लिया जाएगा। कलेक्टर ने हर हाल में 5 सितंबर तक प्रोफाइल अपडेशन पूर्ण करने के निर्देश दिए। वर्ष 2019-20 में कक्षा 9 के छात्रों को शेष साइकिलों का रिपेयरिंग कर वितरण करने के कार्य में सोहावल, रामनगर और रामपुर बघेलान में प्रगति नहीं होने पर कलेक्टर ने नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। वर्ष 2019-20 की शेष 1417 साइकिलों को आवश्यक सुधार कर कक्षा 9 के छात्रों को दी जानी थी, जिसमें 958 साइकिल ही वितरित हुई हैं। 585 साइकिले अधिकतर तीन ब्लाकों में शेष हैं। निःशुल्क पाठ्य पुस्तकों का वितरण छात्रों को किया जा चुका है। लेकिन सोहावल बीईओ द्वारा केवल 35 प्रतिशत पुस्तकों की एंट्री पोर्टल पर की गई है। कलेक्टर ने 2 दिन के भीतर सभी बीईओ को शत-प्रतिशत वितरित किताबों की एंट्री कराने के निर्देश दिए।
    कलेक्टर ने कहा कि जिला शिक्षा अधिकारी और विद्यालयों के बीच बीईओ का पद महत्वपूर्ण कड़ी के रूप में है। बाईओ, बीआरसी, बीएसी सभी निरंतर फील्ड में जाएं और शालाओं का निरीक्षण कर शिक्षकों-छात्रों की उपस्थिति, पठन-पाठन की गुणवत्ता एवं स्कूलों के संचालन के संबंध में प्रतिवेदन भेजें। कलेक्टर अनुराग वर्मा ने शैक्षिक गतिविधियों एवं कार्यक्रमों का जिम्मेदारी पूर्वक निर्वहन नहीं करने के फलस्वरूप सभी बीईओ को निलंबन का नोटिस जारी करने के निर्देश दिए।

Load More Related Articles
Comments are closed.

Check Also

नरेंद्र सिंह तोमर के बेटे के खिलाफ पूर्व संघ प्रचारक हुए मुखर, ड्रग्स की लेन-देन का वीडियो हुआ था वायरल

Author Recent Posts admin Latest posts by admin (see all) राज्य सरकार की बड़ी तैयारी, जल्द…