Home मध्यप्रदेश जिले के नेटवर्क विहीन 63 स्थानों पर लगेंगे बीएसएनएल 4जी के टावर,डिजिटल इंडिया के तहत भारत नेट प्रोजेक्ट में 544 ग्राम पंचायतें कवर

जिले के नेटवर्क विहीन 63 स्थानों पर लगेंगे बीएसएनएल 4जी के टावर,डिजिटल इंडिया के तहत भारत नेट प्रोजेक्ट में 544 ग्राम पंचायतें कवर

19 second read
Comments Off on जिले के नेटवर्क विहीन 63 स्थानों पर लगेंगे बीएसएनएल 4जी के टावर,डिजिटल इंडिया के तहत भारत नेट प्रोजेक्ट में 544 ग्राम पंचायतें कवर
0
176

सतना।।जिले के दूरसंचार नेटवर्क विहीन चिन्हित कुल 63 स्थानों पर बीएसएनएल 4जी के नए टावर लगाए जा रहे हैं। जिससे जिले के सभी मोबाइल उपभोक्ताओं को 4जी नेटवर्क की सुविधा प्राप्त होगी। इसी प्रकार डिजिटल इंडिया के अंतर्गत भारत नेट प्रोजेक्ट फेज 1 और 2 में सतना जिले की 544 ग्राम पंचायतों में ऑप्टिकल फाइबर केबिल के माध्यम से जोड़कर हाई स्पीड इंटरनेट सेवा उपलब्ध करा दी गई है। मझगवां विकासखंड की 27 ग्राम पंचायतों में यह कार्य अभी शेष है। गांवों में ऑप्टिकल फाइबर केबिल के माध्यम से हाई स्पीड इंटरनेट की सुविधा से ऑनलाइन व्यवसाय किए जा सकेंगे।

इस आशय की जानकारी शनिवार को सांसद सतना श्री गणेश सिंह की अध्यक्षता में बीएसएनल बिजनेस एरिया सतना कार्यालय में संपन्न दूरसंचार सलाहकार समिति की बैठक में दी गई। इस मौके पर समिति के सदस्य विवेक अग्रवाल, हरिओम गुप्ता, उमेश प्रताप सिंह, वीरेन्द्र द्विवेदी, चंद्रकांत वाधवानी, चंद्रशेखर वसानी, महाप्रबंधक राम कैलाश मीणा, एजीएम शिखा पांडेय, एपी गुप्ता, लेखा अधिकारी मनोज वर्मा भी उपस्थित थे।

     दूरसंचार सलाहकार समिति की बैठक में भारत सरकार के डिजिटल इंडिया तथा आत्मनिर्भर भारत कार्यक्रम और बीएसएनएल की भूमिका पर समीक्षा की गई। सांसद श्री सिंह ने कहा कि प्रतिस्पर्धा के इस युग में बीएसएनएल अपनी प्रासंगिकता बनाए रखने समर्पित भावना से केंद्र सरकार के कार्यक्रमों को अमलीजामा पहनाए। उन्होंने कहा कि डिजिटल इंडिया के तहत हर गांव में ऑप्टिकल फाइबर से इंटरनेट की स्पीड और बीएसएनएल मोबाईल की 4जी सेवायें पहुंचानी हैं। ऑप्टिकल फाइबर की सुरक्षा के लिए अन्य विभागों के निर्माण कार्यों के दौरान होने वाली टूट-फूट की लाइनों को संबंधित विभागों से समन्वय कर रेस्टोरेशन कराएं। वहीं जिले में 63 स्थानों पर लगने वाले बीएसएनएल के 4जी टॉवरों के स्थलों का चयन एवं राजस्व विभाग से भूमि आवंटन संबंधी औपचारिकताएं शीघ्र पूर्ण कर कार्य प्रारंभ करें।
   

  समिति की बैठक में सभी सदस्यों से सुझाव लिए गए। महाप्रबंधक बिजनेस एरिया राम कैलाश मीणा ने बताया कि बीएसएनएल बिजनेस एरिया सतना के अंतर्गत सतना सहित 8 जिले रीवा, सीधी, शहडोल, पन्ना, सिंगरौली, उमरिया, अनूपपुर जिले आते हैं। भारत सरकार के डिजिटलाइजेशन कार्यक्रम के तहत इन 8 जिलों की अधिकतर ग्राम पंचायतों को हाई स्पीड इंटरनेट के लिए ऑप्टिकल फाइबर केबिल से जोड़ा जा चुका है। भारत सरकार के आत्मनिर्भर भारत कार्यक्रम के तहत बीएसएनएल ने रेवेन्यू शेयरिंग बेसिस पर बिजनेस करने की योजना प्रारंभ की है। अब ग्राम पंचायतों में हाई स्पीड इंटरनेट के साथ-साथ ग्रामीण अपना व्यवसाय भी प्रारंभ कर सकते हैं। फाइबर आधारित ब्रॉडबैंड में वाई-फाई के जरिए घर के सभी सदस्यों को उनके मोबाइल पर हाई स्पीड इंटरनेट की सुविधा मिलेगी। यह वाईफाई 100 मीटर के दायरे में बेहतर काम करेगा। इसके माध्यम से बैंकिंग, वर्क फ्रॉम होम, विद्यार्थियों के लिए ऑनलाइन कक्षाएं, ऑनलाइन शॉपिंग आदि सुविधाएं सुविधाजनक रूप से प्राप्त होंगी। इसके माध्यम से परिवार के सदस्यों के मोबाइल की रिचार्जिंग कास्ट भी लगभग एक चौथाई रह जाएगी। मिशन 500 प्रोजेक्ट के तहत सतना जिले के नेटवर्क विहीन दूरस्थ 63 ग्रामों की साइट पर नए 4जी मोबाइल टावर भी लगाए जा रहे हैं। जिसके माध्यम से सभी ग्रामों में बीएसएनएल की 4जी सुविधा मोबाइल पर प्राप्त हो सकेगी। सतना जिले में कनेक्शन से संबंधित अधिक जानकारी के लिए उत्तम कुमार सिंह जेटीओ से मोबाइल नंबर 9466000553 पर संपर्क किया जा सकता है।

महाप्रबंधक आरके मीणा ने बताया कि डिजिटल इंडिया के अंतर्गत भारत नेट प्रोजेक्ट में आठ विकास खंडों की 544 ग्राम पंचायतों को हाई स्पीड इंटरनेट की सुविधा के लिए ऑप्टिकल फाइबर केबिल से जोड़ा गया है। इनमें प्रोजेक्ट फेज-2 के तहत मैहर की 115 ग्राम पंचायत, मझगवां की 70 में से 43, रामपुर बघेलान की 98 और सोहावल की 94 तथा उचेहरा की 71 ग्राम पंचायतों को जोड़ा गया है। इनमें मझगवां की 27 ग्राम पंचायतें शेष हैं। इसी प्रकार डिजिटल इंडिया के भारत नेट प्रोजेक्ट फेज-1 में नागौद की 94, अमरपाटन की 75 और रामनगर की 54 ग्राम पंचायतें ऑप्टिकल फाइबर से जोड़ी गई हैं।
मिशन 500 डेज में लगेंगे 63 फोर जी टावर
दूरसंचार सलाहकार समिति की बैठक में महाप्रबंधक ने बताया कि भारत संचार निगम लिमिटेड सतना द्वारा अनकवर्ड विलेज में 4जी सर्विस उपलब्ध कराने के मिशन 500 डेज प्रोजेक्ट में सतना जिले के अनकवर्ड नेटवर्क विहीन 63 ग्राम पंचायतों के 63 स्थानों पर बीएसएनएल के 4जी टावर लगाए जाएंगे।

    इनमें सतना जिले के अमरपाटन तहसील में ग्राम पंचायत पपरा, भोगम, बिरसिंहपुर तहसील के नवस्ता, कोठी के उपका, मैहर के कुंद्रा, मझगवां तहसील चित्रकूट के गांव बगदरी, खदरा, पिपरहा, कुठिला पहाड़, कुरियन, बिरगढ़ा, नीबी सूरो, होल्हाई, अमदारी, म्यान, लालपुर, पटिहर, पुतरी, भगवा टोला, मढ़ा टोला, महतैन के इंडियन, भाखन टोला, चौहान टोला, महतैन खास, आसवी, कैमधा, हरिजन बस्ती, छिवलहा में गड़रन टोला, लालपुरवा, नागौद में कडमन, रामनगर में कोल्डिहा नंबर-3, उचेहरा तहसील में उलीची, उलीचा, हरदुआ खुर्द, कल्हरा, मझगवां, सुषेना, महराज, देवरी, कथरी, पनिहाई, बसहा, कोल्दरी, करौंदी, गढ़ौत, अमदरी, डोगरिया, रार, उरई चुवां, बडगढ़ी, जमुनिया खुर्द, जमुनिया कला, इटहा खोखर्रा, मझकपा, मझगवां और खोह में मोबाइल टावर लगाए जाएंगे।

Load More Related Articles
Comments are closed.

Check Also

नरेंद्र सिंह तोमर के बेटे के खिलाफ पूर्व संघ प्रचारक हुए मुखर, ड्रग्स की लेन-देन का वीडियो हुआ था वायरल

Author Recent Posts admin Latest posts by admin (see all) राज्य सरकार की बड़ी तैयारी, जल्द…