Home मध्यप्रदेश आजाद अध्यापक शिक्षक संघ का धरना, अनशन, भूख हड़ताल समाप्त, मांगो व समस्याओं का पूर्ण करने का मिला आश्वाशन

आजाद अध्यापक शिक्षक संघ का धरना, अनशन, भूख हड़ताल समाप्त, मांगो व समस्याओं का पूर्ण करने का मिला आश्वाशन

15 second read
Comments Off on आजाद अध्यापक शिक्षक संघ का धरना, अनशन, भूख हड़ताल समाप्त, मांगो व समस्याओं का पूर्ण करने का मिला आश्वाशन
0
117

सतना। आजाद अध्यापक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष देवेंद्र पटेल एवं प्रान्तीय प्रवक्ता विनय कनौजिया ने बताया की सरकार के प्रतिनिधि ने जूस पिलाकर प्रांताध्यक्ष भरत पटेल का तुड़वाया अनशन संगठन की सभी मांगों व समस्याओं को पूर्ण करने का दिया आश्वासन, आज विक्टोरिया जिला चिकित्सालय जबलपुर के आईसीयू वार्ड में प्रांताध्यक्ष भरत पटेल आजाद अध्यापक शिक्षक संघ के अनवरत 5 दिन के आमरण अनशन को जूस पिलाकर सरकार के प्रतिनिधि श्री जी एस ठाकुर जिलाध्यक्ष जबलपुर भारतीय जनता पार्टी ने अनशन तुड़वाया।


उल्लेखनीय है कि 13 सितंबर 2022 को भोपाल में हुए जोरदार आंदोलन के बाद से लगातार 19 दिनों तक पूरे मध्यप्रदेश में आजाद अध्यापक शिक्षक संघ के द्वारा 70000 अध्यापकों द्वारा हड़ताल धरना प्रदर्शन किया गया है । शासन और संघ के प्रतिनिधिमंडल के बीच वार्ता में मुख्य रूप से प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा विभाग के द्वारा कर्मचारी कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष रमेश चंद शर्मा जी ,शिव चौबे जी कैबिनेट मंत्री दर्जा प्राप्त , हेमंत श्रीवास्तव जी, राज्य कर्मचारी संघ के महासचिव श्री संतोष शर्मा जी मुख्यमंत्री के निजी सचिव, मुरारी लाल सोनी जी वरिष्ठ कर्मचारी नेता की उपस्थिति में तय हुआ है कि 11 अक्टूबर के पश्चात निलंबित शिक्षकों की बहाली, पुरानी पेंशन ,क्रमोन्नति ,ग्रेच्युटी ,अनुकंपा नियुक्ति ,गुरुजी संवर्ग को नियुक्ति दिनांक से वरिष्ठता आदि विभिन्न मांगों व समस्याओं के निराकरण के लिए शासन स्तर से निर्णय लिया जाएगा। संगठन की ओर से प्रतिनिधि के रूप में संतोष सोनी विनय सिंह राठौड़ राधेश्याम राजपूत तेग बहादुर सिंह दर्शन ओड राकेश राजपूत गोविंद बिसेन, डी के विश्वकर्मा शामिल हुए इस बीच जबलपुर में प्रांताध्यक्ष भरत पटेल के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलने वाले प्रान्तीय प्रवक्ता विनय कनौजिया, संगठन मंत्री रामाश्रय पटेल, जिलाध्यक्ष देवेन्द्र पटेल, जिला सचिव के पी सिंह, ब्लाक अध्यक्ष शिव कुमार सिंह, मुकेश सिंह, शुशील कुमार सिंगरौल, डॉ राजाराम कुशवाहा, लालमन कुशवाहा, मनीष पाठक, राम सिंह, इंद्रजीत सिंह,राजेन्द्र सिंह, सुरेखा पटेल, शीला बाई, कल्याण सिंह, गुंडेलाल, बलकरण सिंह, रामविश्वास सिंह,अनुज विश्वकर्मा एवं अन्य अध्यापक शिक्षक सामिल रहे।

Load More Related Articles
Comments are closed.

Check Also

नरेंद्र सिंह तोमर के बेटे के खिलाफ पूर्व संघ प्रचारक हुए मुखर, ड्रग्स की लेन-देन का वीडियो हुआ था वायरल

Author Recent Posts admin Latest posts by admin (see all) राज्य सरकार की बड़ी तैयारी, जल्द…